मैकेनिकल इंजीनियर कैसे बनें? 12वीं के बाद यह कोर्स करें

5/5 - (1 vote)

Last Updated on 3 May 2024 by Abhishek Gupta

क्या आप मैकेनिकल इंजीनियर कैसे बनें, पता करना चाहते हैं, तो आप बिल्कुल सही जगह पर है। आज आपको Mechanical Engineer Kaise Bane के बारे में यहां पर जानकारी दी जायेगी।

जो भी आप अपने आसपास गाड़ियां देखते हैं और जो भी आप आकाश में उड़ता हुआ विमान देखते है, वह सभी मैकेनिकल इंजीनियर द्वारा ही डेवलप किए गए होते हैं। ऐसे में बहुत लोगों के मन में सवाल आते हैं कि, हम किस प्रकार से एक मैकेनिकल इंजीनियर बन सकते हैं। 

इसी को लेकर पिछले कुछ आर्टिकल से में कमेंट भी आ रहे थे, तो आज आपको इसी टॉपिक के बारे में विस्तार से जानकारी दी जाएगी।

इसलिए शुरू करने से पहले हम आपसे कहना चाहेंगे कि, इस मैकेनिकल इंजीनियर कैसे बनें आर्टिकल को आप लास्ट तक पढ़िएगा।

ये पढ़ें –

> 2024 में वेब डेवलपर कैसे बनें 

> बीडीओ कैसे बने

Page Contents show

मैकेनिकल इंजीनियर के रूप में नौकरी कैसे प्राप्त करें?

मैकेनिकल इंजीनियर कैसे बनें

दोस्तों इस टॉपिक के बारे में अगर आपने पहले कभी सर्च किया है। लेकिन आपके मन में फिर भी किसी प्रकार के डाउट है, तब इस आर्टिकल की हेल्प आपको जरूर लेनी चाहिए। यहां पर हम आपको इस टॉपिक के बारे में विस्तार से वर्णन करेंगे। चलिए अब Mechanical Engineer Kaise bane के बारे में बताना शुरू करते हैं।

Mechanical engineer क्या होता है? मैकेनिकल इंजीनियरिंग क्या है

मैकेनिकल इंजीनियरिंग की जॉब से पहले यह समझना जरूरी है कि, मैकेनिकल इंजीनियरिंग क्या होती है।  किसी भी मैकेनिक सिस्टम को डिजाइन करना, उन्हें मैन्युफैक्चर करना, उन्हें टेस्ट करना इत्यादि मैकेनिकल इंजीनियरिंग में किया जाता है। यानी ये इन सभी चीजों पर फोकस करते हैं। 

किसी भी इंडस्ट्री में आइटम इस्तेमाल किए जाते हैं, उनको बिल्ड करना, उनका टेस्ट करना भी इसी कैटेगरी के अंदर आता है। आपको बता दें कि, यह सबसे पुरानी और सबसे बड़ी शाखा मानी जाती है।

मैकेनिकल इंजीनियर क्या काम करते हैं? मैकेनिकल इंजीनियर क्या काम करता है?

चलिए अब जानते हैं कि, मैकेनिकल इंजीनियर का काम क्या रहता है। इनको mechanical solutions निकालने के लिए प्रॉब्लम्स को एनालाइज करना होता है। 

इन्हें system, devices, subsystem इत्यादि को डिजाइन करने के अलावा redesign भी करना रहता है। इसके साथ ही यह डिवाइस के मैन्युफैक्चर के process को लीड भी करते हैं।

यह किसी भी सिस्टम तथा equipment की maintainably और reliability को भी इंप्रूव करते हैं। यह जो भी डिवाइस तैयार करते हैं, उन्हें टेस्ट भी करते हैं, साथ ही स्टेकहोल्डर के साथ भी यह काम कर रिसर्च करते हैं।

ये भी पढ़ें –

CareerStuffs Advertise

> 12वीं के बाद सिविल इंजीनियर कैसे बने

> एस्ट्रोलॉजर कैसे बनते हैं

मैकेनिकल इंजीनियर कितने प्रकार के होते हैं? मैकेनिकल इंजीनियरिंग जॉब्स

चलिए जानते हैं कि, मैकेनिकल इंजीनियर के कितने प्रकार होते हैं, तो उनकी लिस्ट नीचे दी गई है।

  • Aerospace Engineer 
  • Automotive Engineer
  • Manufacturing Systems Engineer 
  • Nuclear Engineer 
  • Engineering Consultant 

1. एयरोस्पेस इंजीनियर: जैसा कि आप इस प्रकार की इंजीनियर के नाम से ही थोड़ा बहुत समझ पा रहे होंगे। यह किसी भी उपग्रह, विमान इत्यादि के टेस्टिंग और design में शामिल रहते हैं। 

इसके अलावा जब कभी भी विमान घटना होती है, तो इसकी जांच करना भी एयरोस्पेस इंजीनियर का काम होता है। 

2. आटोमोटिव इंजीनियर: किसी भी vehicle के डिजाइन, डेवलपमेंट, प्रोडक्शन इत्यादि का काम किसी आटोमोटिव इंजीनियरिंग का रहता है।

3. इंजीनियरिंग एडवाइजर: जब किसी भी प्रोजेक्ट के under काम चल रहा होता है, तो उसके लिए इंजीनियरिंग एडवाइजर को इंचार्ज के रूप में काम करना रहता है। कुल मिलाकर यह किसी प्रोजेक्ट के इंचार्ज के रूप में काम करते हैं। 

4. न्यूक्लियर इंजीनियर: इस प्रकार के इंजीनियर किसी भी परमाणु ऊर्जा प्लांट के डिजाइन, उनके मेंटेनेंस इत्यादि का काम करते हैं।

5. मैन्युफैक्चरिंग सिस्टम्स इंजीनियर: जब किसी भी प्रोजेक्ट के लिए कच्चा माल आता है, तो कच्चे माल की जांच करना उनके गुणवत्ता की जांच करना जैसे काम करने वाले इंजीनियर को मैन्युफैक्चरिंग सिस्टम्स इंजीनियर कहा जाता है।

मैकेनिकल इंजीनियर बनने के लिए क्या योग्यता है? 

चलिए जानते हैं कि, मैकेनिकल इंजीनियर अगर आप बनना चाहते हैं, तो इसके लिए आपके पास क्या योग्यता होनी चाहिए।

  • आवेदक ने 55% से अधिक मार्क्स के साथ 12वीं पास की हो। 
  • आवेदक ने मैकेनिकल इंजीनियरिंग में बी या बीटेक का कोर्स भी किया हो। 
  • आवेदक के पास इंजीनियरिंग में 50% से अधिक मार्क्स हों।

मैकेनिकल इंजीनियरिंग में क्या पढ़ना पड़ता है? डिप्लोमा मैकेनिकल इंजीनियरिंग सब्जेक्ट्स

 Mechanical Engineering में आपको क्या पढ़ाई करनी होती हैं, यानी आप कौन-कौन सा कोर्स इसके लिए कर सकते हैं, इन courses की लिस्ट नीचे दी गई है।

  • Basics Of Casting And Solidification Computational 
  • Flood Dynamics And Heat Transfer 
  • Modelling Of Turbulent Combustion 
  • Industrial Engineering And Operations Research 
  • Principal Of Vibration Control 
  • Robot Manipulators 
  • Dynamics And Control 
  • Wave Propagation In Solids

 मैकेनिकल इंजीनियरिंग के लिए किस प्रकार की स्किल होनी चाहिए? 

यह भी बहुत जरूरी सवाल आपके लिए रहने वाला है कि, आप अगर मेकेनिकल इंजीनियर बनना चाहते हैं, तो इसके लिए आपके पास किस प्रकार की स्किल का होना जरूरी है, तो इसके बारे में नीचे बताया गया है। 

1. कम्युनिकेशन स्किल: देखिए यह हर जगह आपके काम में आती है। आपको किसी क्लाइंट के लिए काम करना पड़ सकता है। 

ऐसे में आपको क्लाइंट को explain करने के लिए भी इसकी जरूरत पड़ेगी, साथ ही टीम के साथ काम करते वक्त भी कम्युनिकेशन स्किल की जरूरत पड़ेगी। 

2. प्रोबलम सॉल्विंग स्किल: अपने आपको ऊपर क्षेत्र में बताया कि, इन्हें प्रॉब्लम्स को एनालाइज करना होता है और फिर प्रॉब्लम्स को एनालाइज करके यह फिर उनका सॉल्यूशन निकलते हैं, तो यह भी एक जरूरी स्किल है।

3. क्रिएटिविटी स्किल: देखिए आपको यहां पर अपनी क्रिएटिविटी दिखानी रहती है, तो यह स्किल भी यहां पर बहुत ही जरूरी हो जाती है। 

4. टीमवर्क स्किल: जब आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग बनेंगे, तो आपको टीम के साथ काम करना होगा , यानि किसी ग्रुप में आपको ऐड कर लिया जाएगा, तो टीमवर्क स्किल ऐसे में आपके लिए बेहद जरूरी हो जाती है।

5. मैथमेटिकल स्किल: मैकेनिकल इंजीनियरिंग को calculas, statistics जैसे मैथ्स के टॉपिक के प्रिंसिपल को इस्तेमाल करना होता है। ऐसे में मैथमेटिकल स्किल बहुत जरूरी हो जाती है।

मैकेनिकल इंजीनियर कैसे बनें? (Mechanical Engineer Kaise Bane)

चलिए अब स्टेप बाय स्टेप जानते हैं कि, आप किस प्रकार से मैकेनिकल इंजीनियर बन सकते हैं।

1. रिक्वायरमेंट को समझ कर पढ़ाई करें पूरी

सबसे पहले आपको यह देखना है कि, किस प्रकार के मैकेनिकल इंजीनियर आपको बनना है। यह आप पहले से डिसाइड कर देते हैं, तो आपके लिए यह बहुत ही फायदेमंद रहेगा। 

यह करने के बाद आपको बीटेक या डिप्लोमा कोर्स करना होगा, जिसके लिए आपको किसी बड़े कॉलेज में एडमिशन के लिए IIT, JEE जैसे एग्जाम्स को पास करना होता है। 

2. मास्टर डिग्री करें हासिल

जब आप 4 साल का डिग्री कोर्स कर लेते हैं, या फिर आप 3 साल का डिप्लोमा कोर्स कर लेते हैं, तो आपको अपने करियर को एडवांस्ड करने के लिए मास्टर डिग्री भी हासिल करनी होगी। 

इसके लिए M.tech आप कर सकते हैं, जो 2 साल का कोर्स रहता है। आप यह कर Professional Working Experience भी प्राप्त कर सकते हैं। 

3. अब अपने एक्सपीरियंस को करें बिल्ड

जब आप अपनी पढ़ाई पूरी कर लेते हैं, यानी आप मास्टर्स डिग्री हासिल कर लेते हैं, तो उसके बाद जरूरत पड़ती है, तो आपको एक्सपीरियंस को बिल्ड करने की।

इसके लिए सबसे बेहतर ऑप्शन यह रहता है कि, आप इंटर्नशिप कर सकते हैं। इंटर्नशिप से अपनी स्किल्स को आप enhance कर सकते हैं। 

किस प्रकार से mechanical engineer काम करते हैं, उसके बारे में आपको एक insights प्राप्त हो जाता है और complete information आपको मिल जाती है।  

इसके लिए आपको किसी भी senior mechanical engineer के under काम करना होता है। यह कर आप अपने area of interest को एक्सप्लोरर कर पाएंगे और फिर आप उस फील्ड में अपना कैरियर बना पाएंगे।

4. अब स्किल करें प्राप्त

हमने आपको बताया कि, मैकेनिकल इंजीनियर बनने के लिए आपके पास स्किल क्या-क्या होनी चाहिए। अब आपके लिए जरूरी हो जाता है कि, और स्किल पर आपको काम करना है। 

आपको अपनी प्रॉब्लम सॉल्विंग स्किल, टीमवर्क स्किल, listening स्किल इत्यादि पर काम करना होगा। इसके लिए जिस भी फील्ड में आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग करना चाह रहे हैं, उस फील्ड के लिए relevant skills आपको प्राप्त करनी होगी।

5. Engineering licence करें प्राप्त 

आपको अगला स्टेप यह करना होगा कि, professional engineering license यानी PE License आपको प्राप्त करना होगा। इसके लिए आपको एग्जाम देना रहता है।

इस लाइसेंस को प्राप्त करने के लिए आपसे bachelors degree मांगी जाती है और इसके लिए आपके पास 5 साल का वर्क एक्सपीरियंस भी होना जरूरी होता है। 

जिस भी राज्य में आप रहते हैं, उस राज्य से आप PE License issue कर सकते हैं।

6. अब रिज्यूम बनाकर कर सकते हैं आप जॉब

आपको उसके बाद अपना रिज्यूम भी बनाना होगा, जहां पर आपको अपनी एक्सपीरियंस, skills आदि को ऐड करना होगा। 

आप अगर अपना एक स्ट्रांग resume भी तैयार करते हैं, तो यह आपके लिए बहुत ही beneficial साबित होता है और इसके बाद आप किसी भी कंपनी में जॉब के लिए अप्लाई कर पाएंगे।

मैकेनिकल इंजीनियर की सैलरी क्या होती है? मैकेनिकल इंजीनियरिंग salary

चलिए Mechanical Engineer Kaise Bane के बाद जानते हैं कि, आप अगर मेकेनिकल इंजीनियर बनते हैं, तो आपको इसके लिए क्या सैलरी दी जाती है। हमने आपको अलग-अलग प्रकार के इंजीनियर के बारे में बताया, तो अलग-अलग प्रकार के इंजीनियर को क्या-क्या सैलरी दी जाती है, यह नीचे टेबल के माध्यम से बताया गया है।

S. NoPostSalary (per annum)
1.सिविल इंजीनियर3 लाख रुपए
2.ऑटोमेटिक इंजीनियर4 लाख रुपए
3.एयरोस्पेस इंजीनियर7 लाख रुपए
4.मैकेनिकल इंजीनियर 3 लाख रुपए
5.मेंटेनेंस इंजीनियरढाई लाख रुपए

Also Read-

> Company में Job कैसे पाए

> सरकारी बैंक भर्ती 2024

> SBI Bank में Job कैसे पाए

> रेलवे में जॉब पाने के लिए क्या करना होगा

FAQ: मैकेनिकल इंजीनियर कैसे बनें से ज्यादातर पूछे जाने वाले सवाल

मैकेनिकल इंजीनियर का कोर्स कितने साल का होता है?

Mechanical इंजीनियर के कोर्स की बात करें, तो अगर आप bachelor’s डिग्री हासिल करते हैं, तो यह 4 साल का होता है। अगर आप यह कोर्स नहीं करना चाहते हैं, तो आप किसी भी पॉलिटेक्निक कॉलेज से डिप्लोमा की डिग्री भी हासिल कर सकते हैं।

मैकेनिकल इंजीनियर कैसे बनें?

Mechanical इंजीनियर बनने के लिए सबसे पहले आपको PCM सब्जेक्ट से 12वीं पास करना होगा और उसके बाद आप ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल कर सकते हैं, या डिप्लोमा का कोर्स आप कर सकते हैं।

मैकेनिकल इंजीनियर बनने के लिए कौन सा कोर्स करना होता है?

मैकेनिकल के लिए पढ़ाई की बात करें तो आप इसके लिए बीटेक कर सकते हैं। बीटेक का कोर्स 4 साल का रहता है। वही आप डिप्लोमा भी कर सकते हैं।

सलाह 

इस आर्टिकल में हमने आपको मैकेनिकल इंजीनियर कैसे बनें के बारे में जानकारी दी ह ऐसे में आप भी अगर इस करियर में जाना चाहते हैं, तो इस आर्टिकल कि आप हेल्प ले सकते हैं। उम्मीद करते हैं कि, आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा, तो इसी प्रकार के टिप्स और ट्रिक के लिए हमारे साथ बने रहे।